किन्नर और शीमेल में क्या अंतर है ? “शीमेल” कौन होता है ?

तमाम लोगों में यह भ्रान्ति और जिज्ञासा होती है की

“शीमेल” क्या होता है ?

क्या शीमेल जन्मजात होते हैं ??
उनका जीवन कैसा होता होगा ???
भारत का समाज किन्नर (हिजड़ा) से भली भांति परिचित है | किन्नर पैदायशी रूप से न ही स्त्री लिंग हैं न ही पुरुष अपितु प्रकृति ने इन्हें अन्तः लिंगी अथवा अलैंगिक स्वरुप का बनाया है | अधिकांश किन्नर पुरुष शारीरिक संरचना के होते हैं परन्तु उनका व्यवहार स्त्रियोचित होता है | बहुत कम किन्नर ऐसे भी होते हैं जिनकी शारीरिक संरचना स्त्रियों जैसी होती है परन्तु दोनों किन्नरों में जननांग अवशेषी रूप में होते हैं जो सक्रीय नहीं होते हैं|

मध्य प्रदेश के उच्च न्यायालय ने फ़ैसला सुनाया है कि हिजड़े पुरुष ही हैं और उन्हें महिला नहीं माना जा सकता। उच्च न्यायालय ने एक निचली अदालत के उस फ़ैसले को बरक़रार रखा है कि हिजड़े ‘तकनीकी ‘तौर पर पुरुष ही होते हैं।

शीमेल वास्तव में प्राकृतिक हिजड़ा या किन्नर नहीं होते हैं अपितु पुरुषों द्वारा कृत्रिम रूप से स्तनों को विकसित कर शीमेल बना जाता हैं | कुछ तो पैसों के लालच में शीमेल बनते हैं क्यों की पोर्न/अश्लील उद्योग में इनकी भारी मांग है और अच्छी कमाई होती है। लेकिन मोटे तौर पर वे अभी भी संसार में एक विवादित मुद्दा है क्यों की इन्हें समलैंगिक (गे) यौन श्रेणी का माना जाता है।

शीमेल, पूर्ण पुरुष के रूप में जन्म लेते हैं, वे मनोवैज्ञानिक तौर पर स्वयं को आतंरिक रूप में महिला मानते हैं और स्वयं को एक पुरुष के शरीर में फंसा हुआ महसूस करते हैं। जब तक वे पुरुष के शरीर में ही फंसे रहें और किसी भी परिवर्तन के बिना स्वयं ही स्त्रियोचित आचरण करें तो उन्हें “ट्रांसजेंडर” अथवा समलैंगिक कहा जा सकता है। परन्तु जब यही पुरुष शरीर में छुपा स्त्रीत्व (एक मनोविकार) Nip & Tuck surgery (कसाव हेतु शल्य चिकित्सा) कराकर तथा अच्छी तरह से स्टेरॉयड और हार्मोन लेकर शरीर के आकार में बदलाव शुरू कर देता हैं तो “शीमेल” बन जाता है । यानि शीमेल वास्तव में कृत्रिम रूप से किन्नर(विकृत नर) बनाने की परंपरा है | हारमोंन के सेवन से शरीर पर वक्ष विक्सित होने लगते हैं | और वक्षों का एक सिलिकॉन आपरेशन उन्हें एक महिला की तरह लगने वाला बना देता है | अंग्रेजी में इन्हें “ladyboy” भी कहा जाता है और इसके आलावा कुछ तुकबन्दियाँ भी प्रयोग होती हैं,

chicks with dicks
sluts with nuts
dolls with balls and,
dudes with boobs

she3

इस्तेमाल किया जाने वाला स्टेरॉयड आमतौर पर विरोधी एण्ड्रोजन या विरोधी हारमोंस हैं। यह हार्मोन उपचार शरीर का खेल बदलता है, शरीर की मांसपेशियों में बदलाव लाता है । कुछ समय में आवाज बदलने का प्रभाव भी हो जाता है, यहां तक कि शरीर पर बालों का झाड़ना और सिर में बालों के बढ़ना सामान्य परिवर्तन है |

विरोधी एण्ड्रोजन काम करता है जिस तरह से एस्ट्रोजन का स्तर बढ़ता है और टेस्टोस्टेरोन स्तर को कम कर देता है, यह एण्ड्रोजन घटकों पर एक imbalance बनाता है।

ट्रांससेक्सुअल vs ट्रांसजेंडर

यानि अश्लील/ पोर्न में दिखने वाले शीमेल वास्तव में ट्रांससेक्सुअल (transsexual, लिंगपरिवर्तित) होते हैं ना कि ट्रांसजेंडर अर्थात हिजड़ा या किन्नर | यह अपनी मानसिक प्रेरणा से एक महिला की तरह महसूस करना चाहते हैं।

उपरोक्त से स्पष्ट हुआ की शीमेल वास्तव में एक महिलाओं जैसे स्तन और शरीर में परिवर्तित पुरुष जननांग युक्त समलैंगिक होता है | यद्यपि की उसने जननांग को सर्जरी से स्त्री जननांग में न बदल दिया हो |

क्या शीमेल में स्तम्भन (इरेक्शन) और स्खलन (एजाकुलेशन) होता है ?

स्तम्भन वास्तव में विरोधी एण्ड्रोजन हार्मोन के लिए खाए जाने वाले खुराक पर निर्भर करता है क्यों की स्टेरॉयड के सेवन से पुरुष स्तम्भन हेतु जिम्मेदार टेस्टोस्टेरोन नमक हारमोंस का स्तर कम होने से स्तम्भन नहीं होता है। नियमित अंतराल में विरोधी एण्ड्रोजन हार्मोन लेते हुए उन्हें कमजोर टेस्टोस्टेरोन स्तर पर स्तम्भन संभव नहीं है | लेकिन धीमी गति से विरोधी एण्ड्रोजन हार्मोन कली खुराक स्तम्भन करने के लिए मदद करता है जैसा की अश्लील/ पोर्न में दिखाया जाता है।

विरोधी एण्ड्रोजन हार्मोन के प्रभाव में स्खलन भी एक बहुत पतली और पानी की कुछ बूंदों के रूप में बदल जाता है। हार्मोन की खुराक हलकी है तो स्खलन गाढ़ा होता है।

she4
फिलिपींस में शीमेल बहुतायत पाए जाते हैं |

अब आप पूछ सकते हैं की क्या शीमेल अपने पुरुष जननांग से पिता बन सकते हैं ?

शीमेल के हार्मोनल उपचार (treatment) के बाद एक बार जब टेस्टोस्टेरोन स्तर नीचे चला जाता है तो फिर सक्रिय शुक्राणुओं के होने की सम्भावना ख़त्म हो जाति है । यही कारण है की हार्मोन थेरेपी के लिए जाने से पहले वे भविष्य में जरूरत के मामले में स्टोर करने के लिए विक्की डोनर के रूप में अपना स्पर्म शुक्राणु बैंक में रख देते हैं | जब कभी उन्हें भविष्य में उपयोग की आवश्यकता हो तो वो इन हिमीकृत शुक्राणुओं से अपनी वंश परंपरा को आगे बाधा सकते हैं |

अध्ययन कहते हैं की शीमेल पुरुष हैं पर वे पुरुष के शरीर में फंसा महसूस करते हैं, और उनका मनोविज्ञान अधिक महिला की तरह होता है। दुनिया भर के शोध के अनुसार लगभग 40% शीमेल अपने कम प्रभावी (निष्क्रिय लिंग) पुरुष जननांग के साथ समलैंगिक साथी के रूप में एक और महिला के साथ रहना पसंद करता है । बाकी 60% शीमेल, पुरुष के साथ होना पसंद करते हैं। आप जिन शीमेल को पोर्न फिल्मों में देखते हैं सभी में शीमेल एक आदमी को खुश करने और किसी दूसरे आदमी के साथ खुश रहने के लिए प्यार करता है | ये उन 60% के बीच हैं।

परन्तु वास्तव में शीमेल एक मानसिक विकृति है | यह मनोरोग विशिष्ट मनोचिकित्सा और काउंसेलिंग से ठीक हो सकता है | परन्तु पश्चिम के उन्मुक्त समाज में हर चीज़ को स्वतंत्रता और ह्यूमन राईट से जोड़ने का जो एक नया फैसन आया है यह वास्तव में बहुत दोषपूर्ण है | शीमेल के द्वारा अपने शरीर की दुर्गति कर लेने, पुरुषत्व को पूर्ण रूप गँवा देने के बाद जब उम्र का एक पड़ाव आता है तो जीवन पश्चाताप में डूब जाता है और अधिकाँश शीमेल आत्महत्या का शिकार हो जाते है | मै अपनी भारतीय सामाजिक व्यवस्था और वर्जनाओं को धन्यवाद कहता हूँ जो प्रकृति प्रदत्त इस शरीर को ईश्वर और समाज के प्रेम में लगता हैं न की वासना की पूर्ती में उसे क्रूरता के स्तर तक ले जाकर मिटा डाले |

ऐसे शीमेल यानि मानसिक विकृति की ओर बढ़ रहे पश्चिम समाज को कहना चाहता हूँ, “बड़े भाग मानुस तन पावा” |

किन्नर और शीमेल से जुड़े मेरे ये दो ज्ञानवर्धक लेख भी आपको अच्छे लगेंगे, जरूर पढ़ें:

वास्तव में किन्नर के जननांग या गुप्तांग दिखने में कैसे होते हैं ?

जानिए किन्नर समुदाय से जुड़ी कुछ खास बातें…

यह लेख आपको कैसा लगा, नीचे कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं । यदि किसी अन्य विषय पर भी मेरे लेख चाहते हैं तो कृपया सूचित करें । किसी सुझाव एवं सुधार हेतु आपका आभारी रहूँगा ।

Facebook Comments
Share Button
You may also like ...

Shivesh Pratap

My articles are the chronicles of my experiences - mostly gleaned from real life encounters. With a first-rate Biz-Tech background, I love to pen down on innovation, public influences, gadgets, motivational and life related issues. Demystifying Sci-tech stories are my forte but that has not restricted me from writing on diverse subjects such as cultures, ideas, thoughts, societies and so on.....

9 thoughts on “किन्नर और शीमेल में क्या अंतर है ? “शीमेल” कौन होता है ?

  • January 9, 2016 at 10:43 am
    Permalink

    The Artical shemale V/S Transgender is very good The auther has described the diffrence between two very nicely such type of education is needed for the youngesters Artical is praise worthy

  • August 26, 2016 at 4:55 pm
    Permalink

    जानकारी के लिये धन्यवाद। मैं हमेशा भ्रमित रहता था कि ये शीमेल क्या हैं और असल में होते भी हैं या नहीं।

  • August 26, 2016 at 8:13 pm
    Permalink

    Thanks for your valuable comment. Keep reading my articles.

  • October 12, 2016 at 11:10 am
    Permalink

    Shemal bche payda kr dkte hai

  • December 11, 2016 at 6:59 pm
    Permalink

    Hi mera name NIDHI hai mera birth male me hua tha but meri body or mera bevare female jaisa hai mai self ko female hi manti ho mere breast bhi female jaise hai or mera penis brith ke time jaisa hi raha dad hai lekin mai na hi male ho or na hi female ho but mai male life me rahti ho log mujje kinne/hijra samajte hai mai night me reguller female dress pahenti ho ab meri age 35 haimai ek dost ke sath rahti hoas his wife mai sex change karwana chahti ho plz help me ye sex change kaha per hoga or mai konse hormons use karo Delhi me sex change ke liye hormons kaha per milege plz help me. Nidhi

  • January 9, 2017 at 7:24 am
    Permalink

    Yaar kinner ko kitni paresaniya hoti hai kaas! Mai enke liye kuch karna chahata hu.

  • May 7, 2017 at 11:58 pm
    Permalink

    Yar me to kinnar se hi wedding karna chahata noon..8382837724

  • May 14, 2017 at 1:04 pm
    Permalink

    shemale bhart me kaha par paye jate hai keya bhart me kinner aur shemale se shidi kara sakte hai agar shemale aur kinner ki shadi ho to dono ki jindagi khushi khushi bit sakti hai
    plz sr. bhart me shemale kaha par adhik paye jate hai jankari de agar koyi kinner ya shemale apni life se paresan ho ya job ke liye paresan ho to mudhase mile ya e_mail kare
    bachchulalyadav503@gamail.com

    9170807186

  • May 14, 2017 at 11:47 pm
    Permalink

    sir shemale or kinnr m kya diffrnt haii… koi log to dkhne m pta chl jata h ke y kinner haii… pr jrure nhe hai ke sbe ek jaise he ho.. hmare yha shadi k baad do ladies aye the bo to dkhne m b kinnr ne lg re thy aesa kyu hai kuch alg h kuch alg.. jaise phle k comnt m kha h ke ha y apne life m khush ne h to to ha shemale or enke shadi krba deni chahya enke mind m b kitne hmare trh he feeling hoge… thats it

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is the copyright of Shivesh Pratap.