भारतीय अंतर्देशीय जलमार्ग प्राधिकरण | Inland Waterways Authority of India- IWAI

भारतीय अंतर्देशीय जलमार्ग प्राधिकरण (Inland Waterways Authority of India- IWAI):

स्थापना : 27 अक्तूबर 1986

मुख्यालय: A-13, Block A, Sector 1,  नोएडा, उत्तरप्रदेश 201301

क्षेत्रीय कार्यालय: पटना, कोलकाता, गुवाहाटी, कोच्चि | 

शाखा कार्यालय: इलाहाबाद, बलिया, भागलपुर, फरक्का व कोल्लम|

भारत में 14500 किमी. लम्बा नौगम्य जलमार्ग है| आपको जानकार आश्चर्य होगा कि आंतरिक जलमार्गों (Internal Waterways) से 0.15% कार्गो (cargo) की आवाजाही होती है|

जलमार्गों को प्राकृतिक पथ कहा जाता है। क्योंकि इसे आदमी ने नहीं प्रकृति ने बनाया है। यही प्राकृतिक पथ  हमारी परिवहन की जीवनरेखा है|

भारत में स्वत्रंता (1947) के बाद अब तक 6 घोषित राष्ट्रीय राजमार्गों में से केवल तीन ही सक्रिय हो सके हैं। पहला गंगा-भागीरथी-हुगली का जलमार्ग है दूसरा असम में ब्रह्मपुत्र और तीसरा केरल का जलमार्ग। अब तक घोषित हो चुके राष्ट्रीय जलमार्गों का क्रमवार विवरण तालिका  में इस प्रकार से है-

स्वीकृत जलमार्ग तालिका:

जलमार्ग क्षेत्र लम्बाई वर्ष
राष्ट्रीय जलमार्ग संख्या-1 गंगा-भागीरथी-हुगली नदी प्रणाली 1620 किमी 1986
राष्ट्रीय जलमार्ग संख्या-2 ब्रह्मपुत्र-सादिया से धुबरी 891 किमी 1988
राष्ट्रीय जलमार्ग संख्या-3 केरल 205 किमी 1993
राष्ट्रीय जलमार्ग संख्या-4 आन्ध्र प्रदेश, तमिलनाडु एवं पुडुचेरी 1095  किमी 2008
राष्ट्रीय जलमार्ग संख्या-5 ओड़िशा तथा पश्चिम बंगाल 623  किमी 2008
राष्ट्रीय जलमार्ग संख्या-6 लखीमपुर से भांगा तक 121 किमी 2013

 

IWAI waterways of india

Facebook Comments
Share Button

Shweta Pratap

I am a defense geek

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is the copyright of Shivesh Pratap.